Noticias
Excise told the minor accused.
Por
रिविजन स्वीकार कर निचली कोर्ट का आदेश निरस्त , अब बाल न्यायालय में चलेगा केस।
Accepting revision, lower court order revoked, now case will run in child court.

आबकारी ने नाबालिग को बताया बालिग आरोपी।
Excise told the minor accused.

Contact us☎️ : 098275 25296